Blogger द्वारा संचालित.
ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है * * * * नशा हे ख़राब झन पीहू शराब * * * * जल है तो कल है * * * * स्वच्छता, समानता, सदभाव, स्वालंबन एवं समृद्धि की ओर बढ़ता समाज * * * * ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है

छत्तीसगढ़ भवन में ब्लोगर मिलन

>> 23 दिसंबर, 2010

19 दिसंबर को मै दिल्ली में था . भाई ललित शर्मा ने जानकारी दी कि दिल्ली के ब्लोगर आपसे मिलेंगे सो मैंने छत्तीसगढ़ भवन में मिलने का स्थान तय कर दिया . भिलाई के भाई पाबला जी दिल्ली में पहले से ही डेरा जमाये बैठे थे इसलिए उन्होंने अनेक ब्लोगर मित्रों को फोन से समय और जगह की जानकारी दे दी . ठीक शाम 6 बजे पाबला जी ने पहुचने की सूचना दी . मै तत्काल 11,अशोक रोड से निकला और 15 मिनट के अन्दर छत्तीसगढ़ भवन पहुँच गया . रास्ते में भाई रेवाराम यादव का फोन आया तो मैंने उन्हें पाबला जी हुलिया बता कर कुछ देर उनसे बतियाने का आग्रह किया .यादव जी से मेरी 38 साल बाद भेंट हुई थी , मेट्रिक में वे मेरे क्लास मेट थे . उसके बाद वे बिछड़ गए ,आज जब 38 साल बाद मिलें तो एक आफिसर के रूप में . जी हाँ आजकल वे सेन्ट्रल पी. डब्लू. डी. में सहायक यंत्री है . वैसे पिछले कुछ महीनों से उनसे फोन से चर्चा हो रही थी . आज प्रत्यक्ष मुलाकात हुई तो पहचानने में झन भर भी नहीं लगा  .  उनसे मिलकर काफी ख़ुशी हुई . मै जब छत्तीसगढ़ पहुंचा तो अनेक ब्लोगर मित्र पहुँच चुके थे . कुछ अन्य मित्र थोड़ी दे में आ गए . ये सभी मेरे लिए नए थे , लेकिन जब बातों   का सिलसिला शुरू हुआ ,तो तीन घंटे कैसे बीत गए पता ही नहीं चला. किसी भी एंगल से  ऐसा नहीं लग रहा था कि हम अंजान है . इस बैठक में बहुत ही सार्थक चर्चा हुई . समयाभाव के कारण मै विस्तार से लिख नहीं पा रहा हूँ . दिल्ली से लौट कर मैं पद-भार ग्रहण की तैयारी में व्यस्त हो गया . अभी-अभी कार्यक्रम से लौट कर इतना ही लिख पा रहा हूँ . विस्तृत जानकारी के लिए मैं कुछ लिंक दे रहा हूँ . दिल्ली के ब्लोगरों से मिलकर मुझे बेहद ख़ुशी हुई तथा मेरा ज्ञानवर्धन भी हुआ . ईश्वर ने चाहा तो आगे भी मिलते रहेंगे .   

मीटिंग में मौजूद रहे ब्लॉगरगण-

अशोक बजाज         -         ग्राम चौपाल 
बीएस पाबला           -         जिंदगी के मेले
सुरेश यादव              -         सार्थक सृजन
जयराम विप्लव       -         जनोक्ति
शाहनवाज़ सिद्दीकी   -        प्रेमरस
राजीव कुमार तनेजा  -       हंसते रहो
संजू तनेजा               -      आइना कुछ कहता है 
कनिष्क कश्यप        -       विचार मीमांसा, ब्लॉग प्रहरी
रेवा राम यादव          -       भावी ब्लॉगर
कुमार राधारमण      -       स्वास्थ्य सबके लिए




                                                  झकाझक टाईम्स भी पढ़िए

2 टिप्पणियाँ:

ललित शर्मा 23 दिसंबर 2010 को 8:36 am  

ब्लॉगर मिलन सार्थक रहा।

एक टिप्पणी भेजें

About This Blog

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP