Blogger द्वारा संचालित.
ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है * * * * नशा हे ख़राब झन पीहू शराब * * * * जल है तो कल है * * * * स्वच्छता, समानता, सदभाव, स्वालंबन एवं समृद्धि की ओर बढ़ता समाज * * * * ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है

भारत के आलावा दुनिया भर में बिकेगा आईपैड-2

>> 25 मार्च, 2011




 कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर क्षेत्र की दिग्गज कंपनी एप्पल इसी हफ्ते दुनिया भर में आईपैड-2 लॉन्च करने जा रही है. लेकिन भारत में आईपैड-2 लेने की चाहत रखने वालों को अभी इंतजार करना पड़ेगा. कंपनी भारत में आईपैड-2 नहीं उतार रही है.

वाई फाई कनेक्टिविटी की सुविधा से लैस आईपैड-2 शुक्रवार से ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, ग्रीस, हंगरी, आयरलैंड, आइसलैंड, आयरलैंड, इटली, लक्जमबर्ग, फ्रांस, फिनलैंड, हॉलैंड, न्यूजीलैंड, नॉर्वे, पोलैंड, पुर्तगाल, स्पेन, स्वीडन और ब्रिटेन समेत कई अन्य देशों में बिकने लगेगा. लेकिन कंपनी भारत में शुक्रवार को आईपैड-2 लॉन्च नहीं कर रही है. पहले भारत में भी 25 मार्च को आईपैड उतारने की तैयारी थी. बाद में भारत को लिस्ट से निकाल दिया गया. एप्पल ने इसका कारण नहीं बताया है. 

ऐसा अंदेशा लगाया जा रहा था कि एप्पल आईपैड-2 के लॉन्च को कुछ समय के लिए रोक सकता है. दरअसल कोरियाई कंपनी सैमसंग इस वक्त एप्पल को कड़ी टक्कर दे रही है. सैमसंग को एप्पल का सबसे बड़ा प्रतिद्वंदी माना जाने लगा है. सैमसंग ने भी दो नए टेबलेट उतारने का एलान किया है. ये गूगल के हनीकॉम्ब ऑपरेटिंग सिस्टम से लैस होंगे. कीमत आईपैड-2 के आस पास ही है. लेकिन सैमसंग के टेबलेट ज्यादा तेज प्रोसेसर के साथ हैं, वे आईपैड-2 से ज्यादा पतले भी हैं, कैमरा और स्क्रीन की क्वालिटी भी आईपैड-2 से बेहतर है. सैमसंग के एलान के बाद माना जाने लगा कि एप्पल आईपैड-2 में कुछ बदलाव करेगा और फिर देर से इसे लॉन्च किया जाएगा.

वहीं ताइवान की कंपनी एचटीसी ने भी अपना टैबलेट उतार दिया है. यह कई मामलों में सैमसंग और आईपैड से अलग है. एचटीसी टैबलेट में 3डी वीडियो रिकॉर्डिंग की जा सकती है. HTC इवो व्यू 4G में डिजिटल पैन भी है, इसकी मदद से यूजर्स अपनी हैंडराइटिंग में लिख और चित्र या ग्राफ बना सकते हैं.

वहीं ब्लैकबेरी बनाने वाली कनाडाई कंपनी रिम भी 19 अप्रैल को अपना टैबलेट उतारने जा रही है. ब्लैक एंड व्हाइट कंप्यूटर से कलर पीसी, कलर पीसी से लैपटॉप, अब लैपटॉप से टैबलेट और स्मार्ट फोन. साफ है तकनीक और कंप्यूटर बड़ी तेजी से बदल रहा है. इस दौड़ में माइक्रोसॉफ्ट जैसी दिग्गज कंपनी विंडोज के भीतर बंद होकर हांफती सी दिख रही है. DW NEWS



4 टिप्पणियाँ:

प्रवीण पाण्डेय 26 मार्च 2011 को 1:32 pm  

बाजार तेजी से बदल रहा है।

राज भाटिय़ा 26 मार्च 2011 को 3:27 pm  

हम ने तो यहां भी नही खरीदना जी...

jainanime 27 मार्च 2011 को 8:44 am  

समझदारी भरा निर्णय बाज़ार में इससे अच्छे विकल्प हों तो अपने उत्पाद को उससे बेहतर विकल्प के रूप में प्रस्तुत करना होगा .

हरीश सिंह 29 मार्च 2011 को 7:17 pm  

आपके ब्लॉग पर आकर अच्छा लगा. हिंदी लेखन को बढ़ावा देने के लिए आपका आभार. आपका ब्लॉग दिनोदिन आप अवश्य पधारें, यदि हमारा प्रयास आपको पसंद आये तो "फालोवर" बनकर हमारा उत्साहवर्धन अवश्य करें. साथ ही अपने अमूल्य सुझावों से हमें अवगत भी कराएँ, ताकि इस मंच को हम नयी दिशा दे सकें. धन्यवाद . आपकी प्रतीक्षा में ....
भारतीय ब्लॉग लेखक मंच
danke ki chot par

एक टिप्पणी भेजें

About This Blog

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP