Blogger द्वारा संचालित.
ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है * * * * नशा हे ख़राब झन पीहू शराब * * * * जल है तो कल है * * * * स्वच्छता, समानता, सदभाव, स्वालंबन एवं समृद्धि की ओर बढ़ता समाज * * * * ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है

कभी प्यासे को पानी पिलाया नहीं . . .

>> 03 अप्रैल, 2015

ये हैं मिस्टर चम्पू साव, नवापारा नगर का "मोबाईल फ्रिज". इसका काम है ठंडे पानी की बोतलों को अपनी साईकल में लटका कर नगर के सार्वजनिक स्थानों पर जाना तथा वहां पर मौजूद लोंगों को ठंडा ठंडा पानी पिलाना. साईकल भी जल-संसाधन मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने उसे प्रदान की है. आज भरी दुपहरी में अपने शुभचिंतकों के साथ जब नवापारा राजिम के त्रिवेणी संगम में स्थित कुलेश्वर महादेव के मंदिर में पहुंचा तो वह ठंडे पानी की दर्जनों बोतलों को लिए घूम रहा था. पहुचंते ही उसने बिना देर किये एक बोतल का ढक्कन खोल कर मेरी तरफ बढ़ा दिया. बोतल में बहुत ही ठंडा पानी भरा हुआ था, बोतल को गीले कपड़े से ढांका गया था ताकि पानी की ठंडकता बरकरार रहें. इस अनुकरणीय व सराहनीय कार्य की प्रशंसा करते हुए अनायास ही मेरे मुंह से निकला - "कभी प्यासे को पानी पिलाया नहीं, बाद अमृत पिलाने से क्या फ़ायदा" ? हालाँकि इस भजन का भाव चम्पू साव जैसे समाजसेवियों के सन्दर्भ में नहीं है. 


0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP