Blogger द्वारा संचालित.
ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है * * * * नशा हे ख़राब झन पीहू शराब * * * * जल है तो कल है * * * * स्वच्छता, समानता, सदभाव, स्वालंबन एवं समृद्धि की ओर बढ़ता समाज * * * * ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है

छत्तीसगढ़ के 6.29 लाख किसानों को ब्याज मुक्त ऋण

>> 02 अगस्त, 2015

6.29 लाख किसानों को 1854 करोड़ का  ब्याज मुक्त ऋण वितरित - अशोक बजाज 

रायपुर, 01 अगस्त 2015/ चालू खरीफ मौसम के दौरान छत्तीसगढ़ में किसानों को प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के माध्यम से बिना ब्याज के अल्पकालीन कृषि ऋण वितरण तेजी से चल रहा है। पांच दिन पहले अर्थात 27 जुलाई तक प्रदेश के छह लाख 29 हजार 61 किसानों को एक हजार 854 करोड़ 35 लाख 58 हजार रूपए का ऋण वितरित किया जा चुका है। इस खरीफ मौसम में दो हजार 650 करोड़ रूपए का ऋण वितरित करने का लक्ष्य रखा गया है। 27 जुलाई तक लक्ष्य का 69 प्रतिशत ऋण बांटा जा चुका है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की घोषणा के अनुरूप किसानों को खेती-किसानी के लिए शून्य ब्याज दर पर ऋण दिया जा रहा है। ऋण का 60 प्रतिशत नगद तथा 40 प्रतिशत खाद एवं बीज के रूप में दिया जाता है।

छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) के अध्यक्ष श्री अशोक बजाज ने आज यहां बताया कि किसानों को खरीफ फसलों के लिए एक हजार 333 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों में ऋण वितरण का कार्य एक अप्रेल से शुरू हो गया है, जो 30 सितम्बर तक चलेगा। श्री बजाज ने बताया कि चालू खरीफ मौसम में किसानों को 2650 करोड़ अल्पकालीन कृषि ऋण के रूप में बांटने का लक्ष्य रखा गया है। श्री बजाज ने बताया कि रायपुर संभाग के रायपुर जिले के 41 हजार 800 किसानों को 115 करोड़ 47 लाख रूपए, गरियाबंद जिले के 22 हजार 80 किसानों को 58 करोड़ 43 लाख रूपए, बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के 55 हजार 635 किसानों को 147 करोड़ 94 लाख रूपए, महासमुन्द जिले के 35 हजार 537 किसानों को 120 करोड़ रूपए तथा धमतरी जिले के 33 हजार 367 किसानों को 74 करोड़ 81 लाख रूपए का ऋण नगद और कृषि आदान सामग्री के रूप में वितरित किया जा चुका है। इसी प्रकार दुर्ग जिले के 26 हजार 747 किसानों को 119 करोड़ 44 लाख रूपए, बालोद जिले के 26 हजार 202 किसानों को 146 करोड़, बेमेतरा जिले के 33 हजार 649 किसानों को 152 करोड़ 91 लाख रूपए, राजनांदगांव जिले के 91 हजार 273 किसानों को 191 करोड़ रूपए और कबीरधाम जिले के 36 हजार 982 किसानों को 174 करोड़ 80 लाख रूपए का अल्पकालीन कृषि ऋण बांटा जा चुका है। 

बिलासपुर संभाग के बिलासपुर जिले के 34 हजार 186 किसानों ने 85 करोड़ 46 लाख रूपए, मुंगेली जिले के 22 हजार 260 किसानों ने 55 करोड़ 65 लाख रूपए, जांजगीर-चांपा जिले के 46 हजार 782 किसानों ने 116 करोड़ 55 लाख रूपए तथा कोरबा जिले के 9 हजार 184 किसानों ने 22 करोड़ 96 लाख रूपए का अल्पकालीन कृषि ऋण गत 27 जुलाई तक ले लिया है। 

बस्तर संभाग के सातों जिलों के 45 हजार 266 किसानों को 133 करोड़ का ऋण वितरित किया जा चुका है। इनमें बस्तर (जगदलपुर) जिले के 10 हजार 792 किसान, कोण्डागांव जिले के 6 हजार 940 किसान, नारायणपुर जिले के एक हजार 76 किसान, उत्तर बस्तर (कांकेर) जिले के 24 हजार 245 किसान, दक्षिण बस्तर (दंतेवाड़ा) जिले के 219 किसान सुकमा जिले के 632 किसान तथा बीजापुर जिले के एक हजार 362 किसान शामिल हैं। बस्तर जिले के किसानों को 51 करोड़ 80 लाख रूपए, कोण्डागांव जिले के किसानों को 18 करोड़ 95 लाख रूपए, नारायणपुर जिले के किसानों को तीन करोड़ पांच लाख रूपए, कांकेर जिले के किसानों 51 करोड़ 57 लाख रूपए, दंतेवाड़ा जिले के किसानों को 94 लाख रूपए, सुकमा जिले के किसानों को दो करोड़ 29 लाख रूपए तथा बीजापुर जिले के किसानों को चार करोड़ चार लाख रूपए का ऋण बांटा जा चुका है। 

सरगुजा संभाग के 33 हजार 205 किसानों को 139 करोड़ रूपए का ऋण वितरित किया जा चुका है। इस संभाग के सरगुजा जिले के 11 हजार 73 किसानों को 33 करोड़ 87 लाख रूपए, बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के चार हजार 412 किसानों को 13 करोड़ 17 लाख रूपए, सूरजपुर जिले के 11 हजार 214 किसानों को 22 करोड़ 37 लाख रूपए, कोरिया जिले के आठ हजार 207 किसानों को 13 करोड़ 65 लाख रूपए, रायगढ़ जिले के 27 हजार 319 किसानों को 48 करोड़ 72 लाख रूपए तथा जशपुर जिले के पांच हजार 886 किसानों को सात करोड़ 22 लाख रूपए से अधिक के ऋण 27 जुलाई तक की स्थिति में बांटे जा चुके हैं। DPR

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें

About This Blog

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP