Blogger द्वारा संचालित.
ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है * * * * नशा हे ख़राब झन पीहू शराब * * * * जल है तो कल है * * * * स्वच्छता, समानता, सदभाव, स्वालंबन एवं समृद्धि की ओर बढ़ता समाज * * * * ग्राम चौपाल में आपका स्वागत है

लोकतन्त्र का महापर्व

>> 05 मई, 2019

लोकतन्त्र के महापर्व के तीसरे चरण में 23 मई को रायपुर लोकसभा के लिए मतदान हुआ. इस दिन सुबह से शाम तक क्षेत्र के अनेक मतदान केन्द्रों में जाने का अवसर मिला. आज ही शादियों का मुहूर्त होने से मतदान अवश्य प्रभावित हुआ. अनेक स्थानों पर वर वधुओं एवं बरातियों ने लोकतन्त्र के फर्ज़ को बखूबी निभाया तथा वैवाहिक संस्कार की प्रक्रियायों को कुछ देर लंबित रखकर बड़े उत्साह के साथ मतदान किया. मै जब गोबरा नवापारा के खोलीपारा बूथ में पहुंचा तो एक दूल्हा मतदान कर बाहर निकल रहा था. वहाँ से जब मै भाजपा के पेंडाल में पहुंचा तब एक अन्य दूल्हे राजा को मतदान पर्ची देकर मतदान के लिए रवाना किया. ये दोनों दूल्हे वोट डालकर बरातियों के साथ प्रस्थान हो गए.

ग्राम तूता अभनपुर 


ग्राम अभनपुर 

ग्राम अभनपुर 

ग्राम अभनपुर बस्ती 

ग्राम  उपरपारा अभनपुर  

ग्राम थनौद अभनपुर 

ग्राम जामगाँव अभनपुर 

गृह ग्राम खोला, अभनपुर 

गृह ग्राम खोला, अभनपुर

गृह ग्राम खोला, अभनपुर

खोलीपारा नवापारा राजिम 

खोलीपारा नवापारा राजिम 

खोलीपारा नवापारा राजिम 

खोलीपारा नवापारा राजिम 

कृ उ मंडी  नवापारा राजिम 

कृ उ मंडी  नवापारा राजिम

सोमवारी बाज़ार  नवापारा राजिम

ग्राम तामासिवनी अभनपुर 
   

Read more...

रंगोत्सव की आपको हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !

>> 21 मार्च, 2019

खुदा करे आप चाँद बन जाएँ,
सदा उजाले की शान बन जाएँ,
कभी ना दूर हो आपके चेहरे से हंसी,
ये होली का त्यौहार ऐसा एहसान कर जाएँ.


रंगोत्सव की आपको हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !

Read more...

लोकतंत्र के महापर्व की हार्दिक बधाई

>> 10 मार्च, 2019

सभी देशवासियों को लोकतंत्र के महापर्व की हार्दिक बधाई.
कृपया लोकतंत्र की मजबूती के लिए अपनी भागीदारी निभावें.
आशा है कि 23 मई को भारत में फटाकेँ फूटेंगें पाकिस्तान चीन में नहीं.



Read more...

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर मातृशक्ति का वंदन !

>> 08 मार्च, 2019

चमक उठी सन सत्तावन में, वह तलवार पुरानी थी, बुंदेले हरबोलों के मुँह हमने सुनी कहानी थी, खूब लड़ी मर्दानी वह तो झाँसी वाली रानी थी।। 


         
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर मातृशक्ति का वंदन !


Read more...

सुनु कपि तोहि समान उपकारी

>> 07 मार्च, 2019

भारत की सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक किया तो लोग सबूत मांग रहें है जबकि लंका दहन कर लौटने पर प्रभु श्रीराम ने हनुमान जी क्या कहा था --
सुनु कपि तोहि समान उपकारी । नहिं कोउ सुर नर मुनि तनुधारी ॥
प्रति उपकार करौं का तोरा । सनमुख होइ न सकत मन मोरा ॥

हे हनुमान्‌ ! सुन, तेरे समान मेरा उपकारी देवता, मनुष्य अथवा मुनि कोई भी शरीरधारी नहीं है. मैं तेरा प्रत्युपकार (बदले में उपकार) तो क्या करूँ, मेरा मन भी तेरे सामने नहीं हो सकता.
                                                                 

Read more...

हर हर महादेव

>> 04 मार्च, 2019


समस्त बहनों एवं भाइयों को महाशिवरात्रि की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !


Read more...

प्रधानमंत्री ने 'आज तक' में दागे सवाल . . .

>> 03 मार्च, 2019

आज तक क्यों करोड़ों लोग खुले में शौच के लिए विवश थे ?
आज तक क्यों दिव्यांगों के लिए सरकार संवेदनशील नहीं थी ?
आज तक क्यों गंगा का पानी इतना प्रदूषित था ?
आज तक क्यों नॉर्थ ईस्ट की उपेक्षा की गई ?
आज तक क्यों सेना के जांबाज वीरों के लिए नेशनल वॉर मेमोरियल नहीं था ?
आज तक क्यों वीर पराक्रमी पुलिसकर्मियों के लिए कोई नेशनल पुलिस मेमोरियल नहीं था ?
आज तक आजाद हिंद फौज की सरकार की याद में लाल किले में झंडा क्यों नहीं फहराया गया ?
                                                                 

Read more...

भारत मां लाडले सपूत की स्वदेश वापसी पर स्वागत, वंदन एवं अभिनन्दन !

>> 01 मार्च, 2019

भारत मां लाडले सपूत की स्वदेश वापसी पर स्वागत, वंदन एवं अभिनन्दन !

Read more...

मुख में राम बगल में छुरी

>> 28 फ़रवरी, 2019

पुलवामा में 14 फरवरी को भारतीय सेना पर आतंकी हमले में 45 जवानों के शहीद होने के बाद पूरे भारत के लोगों में पाकिस्तान के प्रति गुस्सा भड़क गया है. पाकिस्तान शुरू से ही आतंकी गतिविधियों का केंद्र रहा है. पाकिस्तान संरक्षण में ही पूरी दुनिया में आतंकवाद पनप रहा है. यदि यह कहा जाय तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी कि पाकिस्तान आतंकवादियों का पनाहगार बन चुका है. पुलगामा अटैक के बाद आतंकवादियों के खिलाफ मुहिम छेड़ने के अलावा भारत के पास कोई विकल्प भी नहीं था. भारतीय सेना को दाद देनी पड़ेगी कि उन्होंने पुलगामा अटैक के 100 घंटे के अंदर घाटी में सर्च ऑपरेशन कर आतंवादियों को मार डाला. फिर भी देश का गुस्सा शांत नहीं हुआ. फलस्वरूप भारतीय सेना ने 26 फरवरी को सर्जिकल स्ट्राइक कर पाक सीमा के मुजफ्फराबाद, चकोटी और बालकोट में लश्कर, जैश और हिजबुल के कैंपों को तबाह कर दिया. इस घटना से भी पाकिस्तान सबक लेने को तैयार नहीं है. पाक सेना ने 27 फरवरी को पुनः एल.ओ.सी. का उल्लघन कर फायरिंग की. कुल मिलकर भारत-पाक के बीच युद्ध जैसी स्थिति निर्मित हो गई है. पाकिस्तान ने दावा किया कि उसने भारत के दो सैन्य विमानों को मार गिराया है जिनमें से एक पाक अधिकृत कश्मीर में गिरा जबकि दूसरा जम्मू कश्मीर में गिरा. अधिकारियों ने कहा कि जम्मू के राजौरी सेक्टर में भारतीय हवाई सुरक्षा बलों ने पाकिस्तानी वायुसेना के एफ-16 युद्धक विमान को मार गिराया है. झड़प के दौरान एक मिग-21 विमान गिर गया और उसका पायलट लापता है. जैसे ही तनाव बढ़ा नई दिल्ली से उत्तर के समूचे वायुक्षेत्र को कुछ समय के लिये “खाली” करा दिया गया. जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और पंजाब के नौ हवाई अड्डों को सुबह कुछ समय के लिये नागरिक उड़ानों के लिए बंद कर दिया गया लेकिन बाद में वहां सामान्य हवाई सेवाएं फिर बहाल कर दी गई. इस बीच भारतीय पायलट अभिनन्दन वर्धमान दुर्भाग्य से पाक सेना के हाथ लग गया है. भारतीय सेना ने साफ चेतावनी दी है कि अभिनन्दन को पाकिस्तान तत्काल भारत को सौंप दें. अंतराष्ट्रीय नियमों के तहत उसे रिहा करना ही होगा. उधर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने शांति वार्ता पहल कर एक नई चाल चली है. एक तरफ तो वह शांति वार्ता की बात करता है तो दूसरी तरफ एल.ओ.सी. का उल्लंघन कर भारत पर आक्रमण कर रहा है. यह तो "मुख में राम बगल में छुरी" वाली बात है. यह उसकी दो मुँही चाल है. भारत को उसके नापाक इरादों को भांप कर सदैव सतर्क रहना पड़ेगा.

Read more...

मैं देश नहीं मिटने दूंगा

>> 27 फ़रवरी, 2019


सौगंध मुझे इस मिट्टी की। 
मैं देश नहीं मिटने दूंगा।।

मैं देश नहीं रुकने दूंगा। 
मैं देश नहीं झुकने दूंगा।।


मेरा वचन है भारत मां को। 
तेरा शीश झुकने नहीं दूंगा।।

सौगंध मुझे इस मिट्टी की। 
मैं देश नहीं मिटने दूंगा।

                                                      - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी


Read more...

प्रधानमंत्री के मन की बात ने बढ़ाई रेडियो की महत्ता - अशोक बजाज

>> 24 फ़रवरी, 2019

रेडियो श्रोताओं ने लगातार 53 कड़ी सुनने का बनाया रिकार्ड

रायपुर । छत्तीसगढ़ के रेडियो श्रोताओं ने आकाशवाणी से प्रसारित प्रधानमंत्री के मन की बात की 53 वीं कड़ी का सामूहिक श्रवण किया। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ श्रोता संघ के संयोजक अशोक बजाज के नेतृत्व में पहली कड़ी से लेकर तिरपनवीं कड़ी तक लगातार सामूहिक श्रवण का रिकार्ड स्थापित किया। इस अवसर पर श्री बजाज ने रेडियो श्रोताओं की तारीफ करते हुए उनकी सजगता एवं सक्रियता के लिए आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी ने समसामयिक विषयों पर देशवासियों से चर्चा के लिए रेडियो को माध्यम बनाकर रेडियो की महत्ता में इजाफा किया है। आज 53वी कड़ी का प्रसारण सुनने के लिए अशोक बजाज के अलावा सुरेश सरवैय्या, विनोद वंडलकर, कमल कुमार, नारायण यादव विकास चंद्राकर, व्यासनारायन साहू एवं माधौप्रसाद मिरी आदि श्रोतागण मुख्य रूप से उपस्थित थे। (समाचार)
                                                           

Read more...

आखरी उम्मीद

>> 21 फ़रवरी, 2019


उन लोगों की उम्मीदों को कभी टूटने ना दें 
जिनकी आखरी उम्मीद सिर्फ आप ही है.


Read more...

विश्व रेडियो दिवस

>> 14 फ़रवरी, 2019

World Radio Day

विश्व रेडियो दिवस की सभी श्रोताओं को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !

                                                              - अशोक बजाज 

Read more...

रहिमन और कबीर के प्रासंगिक दोहे

>> 30 जनवरी, 2019

बुरा जो देखन मैं चला, बुरा न मिलिया कोय, 
जो दिल खोजा आपना, मुझसे बुरा न कोय।
                                                                                      
रहिमन चुप हो बैठिये, देखि दिनन के फेर।
जब नीके दिन आइहैं, बनत न लगिहैं देर॥


Read more...

गणतंत्र दिवस 2019

>> 28 जनवरी, 2019

प्रस्तुत है गणतंत्र दिवस 2019 के कार्यक्रमों की झलकियाँ -  
गणतंत्र दिवस के अवसर पर सरस्वती शिशु मंदिर अभनपुर में ध्वजारोहण करते हुए.

गणतंत्र दिवस के अवसर पर सरस्वती शिशु मंदिर अभनपुर में भारत माता की आरती.
                                                                                   
गणतंत्र दिवस के अवसर पर सरस्वती शिशु मंदिर अभनपुर में विद्यार्थियों द्वारा स्वलिखित पत्रिका "बाल मित्र" का विमोचन करते हुए.

गणतंत्र दिवस के अवसर पर अभनपुर में श्री विशेष चौरसिया द्वारा लिखित पुस्तक "English Mentor" का विमोचन करते हुए.
                                                                             
गणतंत्र दिवस के अवसर पर सरस्वती शिशु मंदिर अभनपुर में छात्र छात्राओं को पुरस्कार वितरित करते हुए.

                                                                               
गणतंत्र दिवस के अवसर पर सरस्वती शिशु मंदिर अभनपुर बस्ती में ध्वजारोहण करते हुए.
                                                                                 
गणतंत्र दिवस के अवसर पर सरस्वती शिशु मंदिर अभनपुर बस्ती में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए.

गणतंत्र दिवस के अवसर पर सरस्वती शिशु मंदिर अभनपुर बस्ती में आयोजित समारोह में पालकों एवं बालकों के साथ  
                                                                                     
गणतंत्र दिवस के अवसर पर अभनपुर स्टेडियम में ध्वजारोहण करते हुए.

गणतंत्र दिवस के अवसर पर अभनपुर स्टेडियम में ध्वजारोहण करते हुए.

गणतंत्र दिवस के अवसर पर अभनपुर स्टेडियम में ध्वजारोहण करते हुए.

गणतंत्र दिवस के अवसर पर अभनपुर स्टेडियम में ध्वजारोहण समारोह 
                                                                                 
भारत पेट्रोलियम के तत्वावधान में 26 जनवरी को पेट्रोल पंप अभनपुर में आयोजित समारोह में फ्यूल की मात्रा व गुणवत्ता का परीक्षण करते हुए.

भारत पेट्रोलियम के तत्वावधान में 26 जनवरी को पेट्रोल पंप अभनपुर में आयोजित समारोह में फ्यूल की मात्रा व गुणवत्ता का परीक्षण करते हुए.

भारत पेट्रोलियम के तत्वावधान में 26 जनवरी को पेट्रोल पंप अभनपुर में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह. 

भारत पेट्रोलियम के तत्वावधान में 26 जनवरी को पेट्रोल पंप अभनपुर में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह. 
                                                                                                                                                                          

Read more...

तब आता है नया साल

>> 02 जनवरी, 2019

हम कैलेण्डर में तिथि बदलने की सामान्य प्रक्रिया को नव वर्ष ना समझे. स्वाभाविक रूप से 31 दिसंबर के बाद एक जनवरी ही आएगा. वैसे तो प्रतिदिन सूरज की किरणें नया सन्देश लेकर आती है ठीक वैसे ही 1 जनवरी आया है.  जश्न तो आप बेशक रोज मनाये लेकिन 1 जनवरी को उसी रूप में लें जैसे अन्य दिन को आप लेते है. नया साल अलग अलग लोगों या समूहों के लिए अलग अलग समय में नए एहसास के साथ आता है तब वह झूमता है, नाचता है और खुशिया मनाता है. जैसे कोई सफल विद्यार्थी अगली कक्षा में प्रवेश लेता है तो उसे नयेपन का अनुभव होता है अथवा कोई विद्यार्थी स्कूल से कालेज के पायदान पर चढ़ता है तो उसे नए पन का एहसास होता है.  इसी प्रकार किसी युवक की जब नौकरी लग जाती है और जिस दिन वह ड्यूटी ज्वाईन करता है उसके नए कैरियर की शुरुवात होती है. यदि किसी नौकरीपेशा आदमी का प्रमोशन हो जाय अथवा कोई शादी के बाद नए वैवाहिक जीवन की शुरुवात करे तो ख़ुशी का एहसास होना लाजिमी है और होता भी है.

व्यापारियों के लिए नया साल दिवाली में आता है जब वे नए सिरे से खाता बही तैयार करते है, किसानों के लिए नया वर्ष नई फसल के साथ आता है. देश के अनेक प्रान्तों में अलग अलग नाम से यह त्यौहार मनाया जाता है जैसे पंजाब में बैसाखी और दक्षिण में पोंगल का त्यौहार नई फसल आने के उमंग में मनाया जाता है. लेकिन एक जनवरी को ऐसा कुछ नहीं होता जिसके कारण हम उसे नए साल का नाम दें. इसके ठीक विपरीत भारत में नया वर्ष चित्र शुक्ल प्रतिपदा को मनाया जाता है, प्राकृतिक दृष्टि से यह औचित्यपूर्ण इसीलिये है क्योंकि उस समय नए मौसम यानी बसंत ऋतु का आगमन होता है. खेत खलियान रंगीन फूलों से सजे होते है. सरसों की पीली पीली फूलों एवं टेसुओं की केसरिया फूलों को देखकर मन आनंदित हो उठता है. यह हमें नयेपन का एहसास कराता है. वास्तव में हम सबके लिए नया वर्ष वही है. अतः कैलेण्डर में तिथि बदलने की सामान्य प्रक्रिया को हम केवल उसी रूप में लें जैसे अन्य दिन को लेते है. 
इस संबध में पूर्व में लिखी इस कविता को प्रासंगिक मानकर प्रस्तुत कर रहा हूँ.

कविता / मानवता का धर्म नया है

धूप वही है, रुप वही है,
सूरज का स्वरूप वही है ;
केवल उसका प्रकाश नया है ,
किरणों का एहसास नया है .

दिन वही है, रात वही है ,
इस दुनिया की , बात वही है ;
केवल अपना आभाष नया है ,
जीवन में कोई खास नया है .

रीत वही है, मीत वही है ,
जीवन का संगीत वही है ;
केवल उसका राग नया है ,
मित्रों का अनुराग नया है .

 नाव वही  है, पतवार वही  है ,
बहते जल की रफ़्तार वही है ;
केवल नदी का किनारा नया है ,
इस जीवन का सहारा नया है .

खेत वही है, खलिहान वही है ,
मेहनतकश किसान वही है ;
केवल उत्पादित धान नया है ,
धरती का परिधान नया है . 

मन वही है, तन वही है ,
मेरा प्यारा वतन वही है ;
केवल अपना कर्म नया है ,
मानवता का धर्म नया है .

प्रस्तुतकर्ता - अशोक बजाज

Read more...

About This Blog

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP